"MedicalWebPage", "FAQPage"

Get insightful and

helpful tips to treat

your symptoms for FREE

Want an ad free reading experience?

Download PharmEasy App

Banner Image

Register to Avail the Offer

Send OTP

By continuing, you agree with our Privacy Policy and Terms and Conditions

Success Banner Image

Comments

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Leave your comment here

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिफिलैककी 10 कैप्सूल की स्ट्रिप (Bifilac Capsules in hindi): उपयोग, फायदे, साइड-इफेक्ट

By Dr. Ritu Budania +2 more

मेडिकल जानकारी

बिफिलैक कैप्सूल एक न्यूट्रास्यूटिकल दवा है। इसमें लाभकारी बैक्टीरिया के स्ट्रेन होते हैं जिनमें प्रोबायोटिक, प्रीबायोटिक और इम्यूनोबायोटिक गुण होते हैं। इसका उपयोग आंत के सामान्य माइक्रोबियल फ्लोरा (आंत में पाए जाने वाले लाभकारी सूक्ष्मजीव) को बहाल करने के लिए किया जाता है। विटागट कैप्सूल में बैक्टीरिया भी होते हैं जिनमें प्रोबायोटिक गुण होते हैं। 

यह दवा एंटीबायोटिक के उपयोग से जुड़े डायरिया (दस्त) के इलाज और रोकथाम में और कुछ बीमारियों तथा दवाओं के कारण होने वाले डायरिया में राहत देने के लिए काम आती है। 

Bifilac Capsules: Uses, benefits & side effectts

हर इंसान की आंत में लाखों सूक्ष्मजीव रहते हैं जो आपके स्वास्थ्य को सही बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये सूक्ष्मजीव प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) को उत्तेजित करते हैं। ये खाने में आ सकने वाले कुछ विषैले यौगिकों को तोड़ते हैं और कुछ अमीनो अम्ल तथा विटामिन बनाते हैं। 

हालांकि, कुछ स्थितियों के कारण, आपकी आंत में सामान्य रूप से पाए जाने वाले इन सूक्ष्मजीवों का संतुलन बिगड़ जाता है। इससे दस्त हो जाते हैं और अवशोषण खराब हो जाता है। बिफिलैक कैप्सूल, अपने प्रोबायोटिक और प्रीबायोटिक घटकों के साथ, आंत के सामान्य बैक्टीरिया के संतुलन को फिर से बहाल करता है। यह दवाओं के कारण होने वाले दस्त में राहत देने में भी मदद करता है और अवशोषण और पाचन में सुधार करता है। इसे अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही लें। 

बिफिलैक की 10 कैप्सूल की स्ट्रिप के घटक और लाभ 

  • बिफिलैक कैप्सूल दवाओं का एक कॉम्बिनेशन है, जिसमें प्रोबायोटिक, प्रीबायोटिक और इम्यूनोबायोटिक गुण होते हैं। यह आंत के सामान्य बैक्टीरियल फ्लोरा को बहाल करने में मदद करता है, विभिन्न कारणों से होने वाले दस्त में राहत देता है, और अवशोषण और पाचन में सुधार करता है। 
  • इसमें स्ट्रेप्टोकोकस फेकैलिस, क्लोस्ट्रीडियम ब्यूटिरिकम, बेसिलस मेसेन्टेरिकस और लैक्टोबैसिलस स्पोरोजेन्स नाम के 4 लाभकारी बैक्टीरिया के स्ट्रेन होते हैं। 
  • स्ट्रेप्टोकोकस फेकैलिस: यह आंत हेल्दी बैक्टीरियल फ्लोरा को सामान्य करने में मदद करता है, इम्यूनिटी में सुधार करता है और दस्त, सूजन संबंधी बीमारियों और लैक्टोज असहिष्णुता की घटना को रोक सकता है। 
  • क्लोस्ट्रीडियम ब्यूटिरिकम: यह गुणन (मल्टिप्लिकेशन) करके ब्यूटिरिक और एसिटिक एसिड की फैटी एसिड चेन पैदा करता है और आंत के पीएच को बहाल करने में मदद करता है। 
  • बैसिलस मेसेन्टेरिकस: यह अच्छे बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा देता है और हानिकारक बैक्टीरिया के विकास को रोकता है। यह ल्यूमिनल एंटरोटॉक्सिन के स्राव (सिक्रीशन) को भी कम करता है, जिसके कारण दस्त होते हैं। 
  • लैक्टोबैसिलस स्पोरोजेन्स: यह लैक्टिक एसिड पैदा करता है और आंतों के वातावरण को हानिकारक बैक्टीरिया के विकास के लिए प्रतिकूल बनाता है। यह एंटीबायोटिक थेरेपी के बाद माइक्रोबियल बैलेंस (सूक्ष्मजीवीय संतुलन) को बहाल करने में भी मदद करता है। 

बिफिलैक की 10 कैप्सूल की स्ट्रिप के उपयोग (Uses of Bifilac Strip of 10 capsules in Hindi) 

  • आंत के सामान्य माइक्रोबियल फ्लोरा को बहाल करने के लिए बिफिलैक कैप्सूल का उपयोग किया जाता है। 
  • इसे एंटीबायोटिक दवाओं के कारण होने वाले दस्त की रोकथाम और इलाज के लिए भी काम में लिया जाता है। 
  • कुछ बीमारियों तथा कुछ दवाओं के कारण होने वाले दस्त की स्थिति में भी यह राहत देता है। 

बिफिलैक की 10 कैप्सूल की स्ट्रिप के लिए सावधानियां और चेतावनियां 

अन्य सामान्य चेतावनियां (Other General Warnings) 

अपने डॉक्टर से बात करें, अगर 

  • आपको इस कैप्सूल के किसी भी घटक से एलर्जी है। 
  • आपको लैक्टोज़ इनटोलरेंस है या आपको दूध पचता नहीं है। 
  • आप गर्भवती (प्रेग्नेंट) हैं, या बच्चे को दूध पिला रही हैं। 
  • आपको प्रतिरक्षा तंत्र (इम्यून सिस्टम) से जुड़ी समस्याएं हैं, या आपका इम्यून सिस्टम कमजोर है। 
  • आपको लिवर या किडनी से जुड़ी कोई समस्या है। 
  • आपको कुपोषित बच्चों को बिफिलैक कैप्सूल नहीं देना चाहिए। 
  • आपको कोई दूसरी बीमारी या मेडिकल कंडीशन है और आप उसके लिए दवा ले रहे हैं। 

बिफिलैक की 10 कैप्सूल की स्ट्रिप के उपयोग के लिए निर्देश

  • बिफिलैक कैप्सूल को अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही लें। 
  • प्रेस्क्राइब की गई डोज़ से अधिक दवा न लें। 

बिफिलैक की 10 कैप्सूल की स्ट्रिप का भंडारण और निपटान (स्टोरेज एंड डिस्पोजल) 

  • इसे ठंडी और सूखी जगह पर स्टोर करें। 
  • इसे बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें। 

Read in English: Bifilac Capsules: Uses, benefits & side effects

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ) 

बिफिलैक कैप्सूल क्या काम आता है? 

बिफिलैक कैप्सूल आंत में हेल्दी माइक्रोबियल फ्लोरा को फिर से बहाल करने में मदद करता है। वे विभिन्न प्रकार के दस्तों को रोकने और उनका इलाज करने के लिए भी उपयोगी हैं, उदाहरण के लिए एंटीबायोटिक्स और अन्य दवाओं के कारण होने वाले दस्त। 

क्या बिफिलैक कैप्सूल का इस्तेमाल प्रेग्नेंसी (गर्भावस्था) में किया जा सकता है? 

प्रेग्नेंसी के दौरान इस कैप्सूल के सुरक्षित होने या न होने के बारे में अधिक जानकारी उपलब्ध नहीं है। अगर आपके डॉक्टर को लगता है कि इलाज के फायदे भ्रूण को हो सकने वाले नुकसान के मुकाबले ज्यादा है, तो वह इस दवा को प्रेस्क्राइब कर सकता है। अगर आप गर्भवती (प्रेग्नेंट) हैं तो अपनी मर्जी से दवा न लें। 

बिफिलैक कैप्सूल के साइड इफेक्ट्स (दुष्प्रभाव) क्या हैं? 

आपको कब्ज, सूजन, गैस, हिचकी और त्वचा पर रिएक्शन जैसे चकत्ते पड़ना, खुजली आदि जैसी समस्याएं आ सकती हैं। हालांकि ये साइड इफेक्ट हर किसी को प्रभावित नहीं करते हैं। 

क्या बिफिलैक कैप्सूल एंटीबायोटिक दवाओं के बाद लिया जा सकता है? 

हां, इसका उपयोग एंटीबायोटिक दवाओं के साथ किया जा सकता है। एंटीबायोटिक दवाओं के कारण आंत के सामान्य बैक्टीरिया का संतुलन बिगड़ जाता है। एंटीबायोटिक दवा हानिकारक बैक्टीरिया के साथ-साथ सामान्य और अच्छे बैक्टीरिया को भी मार देती है। बिफिलैक आंत के सामान्य बैक्टीरियल फ्लोरा को बहाल करने में मदद करता है और एंटीबायोटिक दवाओं के कारण होने वाले दस्त में राहत देता है। 

क्या बिफिलैक का उपयोग बुजुर्ग मरीज कर सकते हैं? 

बुजुर्ग मरीजों के अंग वयस्कों की तरह सक्रिय और फंक्शनल नहीं होते हैं। इसलिए, बुजुर्गों को यह दवा देने से पहले सभी स्थितियों पर विचार किया जाना चाहिए। बुजुर्गों में यह दवा डॉक्टर द्वारा प्रेस्क्राइब की जाने पर ही दी जानी चाहिए। 

क्या स्तनपान (ब्रेस्टफीडिंग) करवाने वाली मांओं में बिफिलैक कैप्सूल दिया जा सकता है? 

स्तनपान (ब्रेस्टफीडिंग) करवाने वाली मांओं में बिफिलैक कैप्सूल के सुरक्षित होने के बारे में पुख्ता जानकारी उपलब्ध नहीं है, इसलिए दूध पी रहे शिशु पर साइड इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं। इसलिए, ब्रेस्टफीडिंग करवाने वाली मांओं को यह दवा नहीं लेनी चाहिए। 

बिफिलैक और बिफिलैक-एचपी के बीच क्या अंतर है?

बिफिलैक और बिफिलैक एचपी कैप्सूल दोनों में दवाओं का एक कॉम्बिनेशन होता है जिसमें प्रोबायोटिक, प्रीबायोटिक और इम्यूनोबायोटिक गुण होते हैं। यह आंत के सामान्य बैक्टीरियल फ्लोरा को बहाल करने में मदद करता है, विभिन्न कारणों से होने वाले दस्त में राहत देता है, और अवशोषण और पाचन में सुधार करता है। बिफिलैक और बिफिलैक एचपी कैप्सूल में एकमात्र अंतर यह है कि बिफिलैक एचपी कैप्सूल एक उच्च शक्ति वाला कॉम्बिनेशन होता है। आपकी स्थिति का आकलन करने के बाद आपका डॉक्टर इनमें से किसी एक सप्लीमेंट का सुझाव देगा।

क्या बिफिलैक दस्त को रोकता है? 

बिफिलैक कैप्सूल का इस्तेमाल दस्त में राहत देने के लिए दूसरी दवाओं के साथ संयोजन में किया जाता है। यह आंत में पाए जाने वाले फायदेमंद बैक्टीरिया को फिर से बहाल करता है और पेट में सूक्ष्मजीवों के प्राकृतिक संतुलन को स्थापित करता है। यह दस्त की अवधि को कम करके दस्त में सुधार करने में मदद करता है। 

बिफिलैक कब लेना चाहिए? 

बिफिलैक कैप्सूल को आपके डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही लेना चाहिए। आपका डॉक्टर तय करता है कि एक दिन में कितने कैप्सूल लेने हैं और किस समय लेने हैं। इसे खाने के बाद लेने की कोशिश करें।

क्या बिफिलैक को रोजाना लिया जा सकता है? 

हां, बिफिलैक को रोजाना लिया जा सकता है लेकिन इसे केवल डॉक्टर द्वारा बताई गई अवधि तक ही लेना चाहिए। प्रेस्क्राइब की गई डोज़ से अधिक दवा न लें।

क्या बिफिलैक के कारण दस्त लग सकते हैं? 

बिफिलैक कैप्सूल, अपने प्रोबायोटिक और प्रीबायोटिक घटकों के साथ, आंत के सामान्य बैक्टीरियल फ्लोरा को बहाल करता है और दवाओं के कारण होने वाले दस्त से राहत देने में मदद करता है। हालांकि, अगर आपको दस्त की समस्या है और कैप्सूल लेने के बाद भी लंबे समय तक दस्त लग रहे हैं, तो डॉक्टर को इस बारे में जानकारी दें। 

क्या बिफिलैक से कब्ज में राहत मिलती है? 

नहीं, बिफिलैक से कब्ज में राहत नहीं मिलती है। यह आंत के सामान्य बैक्टीरियल फ्लोरा को बहाल करने में मदद करता है एंटीबायोटिक दवाओं के कारण होने वाले दस्त के इलाज और रोकथाम में मदद करता है और पाचन में सुधार करता है। 

क्या बिफिलैक कैप्सूल वसा उपापचय (लिपिड मेटाबोलिज्म) में मदद करता है? 

हां। बिफिलैक कैप्सूल अपनी कोशिकीय संरचना में कोलेस्ट्रॉल को शामिल करके लिपिड मेटाबोलिज्म को हेल्दी बनाए रखने में मदद करता है।

क्या बिफिलैक कैप्सूल आंत में पाए जाने वाले सामान्य सूक्ष्मजीवों (नेचुरल फ्लोरा) को वापस बहाल करने में मदद करता है? 

हां, बिफिलैक कैप्सूल आंतों में पाए जाने वाले हेल्दी माइक्रोफ्लोरा या सूक्ष्मजीवों को वापस बहाल करने में मदद करता है। इससे आंत की इकोलॉजी में सुधार होता है। 

Disclaimer: The information provided herein is supplied to the best of our abilities to make it accurate and reliable as it is published after a review by a team of professionals. This information is solely intended to provide a general overview on the product and must be used for informational purposes only. You should not use the information provided herein to diagnose, prevent, or cure a health problem. Nothing contained on this page is intended to create a doctor-patient relationship, replace or be a substitute for a registered medical practitioner’s medical treatment/advice or consultation. The absence of any information or warning to any medicine shall not be considered and assumed as an implied assurance. We highly recommend that you consult your registered medical practitioner for all queries or doubts related to your medical condition. You hereby agree that you shall not make any health or medical-related decision based in whole or in part on anything contained in the Site. Please click here for detailed T&C.

3
1

Comments

Leave your comment...



You may also like